Noida news : फोनरवा ने प्रबंधक निदेशक श्रीमती चैत्रा वी के साथ बैठक की

 Noida news : फोनरवा ने प्रबंधक निदेशक श्रीमती चैत्रा वी के साथ बैठक की
Share this post

 

Noida news : नोएडा शहर की बिजली व्यवस्था को बेहतर बनाने को लेकर फेडरेशन ऑफ नोएडा रेसिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन (फोनरवा) ने पश्चिमांचल विद्युत वितरण कि प्रबंधक निदेशक श्रीमती चैत्रा वी के साथ बैठक की गई। इस अवसर पर संजय खत्री ऐसीईओ नोएडा प्राधिकरण, मुख्य अभियंता  राजीव मोहन, अधीक्षण अभियंता संजीव वैश्य, बीएल मौर्या तथा अधिशाषी अभियंता, एसडीओ तथा अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। नोएडा के ज्यादातर सेक्टरों के पदाधिकारियों की हमेशा शिकायत रहती है कि उनके यहां ट्रांसफार्मरों, लाइनों, जंग खाए हुए खंभों, बेकार फीडर जंक्शन/पैनल बॉक्स,मीटर बॉक्स आदि की हालत काफी खराब है। अभी हाल ही में सेक्टरों में कुछ कार्य हुए हैं लेकिन अभी बहुत से कार्य होने बाकी हैं। सबसे अधिक समस्या सेक्टरों में आये दिन घरों में फ्लकचुएशन होना है जिसके कारण लोगों के घरों के उपकरण फूंक रहे हैं । इसके अलावा सेक्टरों में बिजली की आपूर्ति लम्बे समय के लिए अवरुद्ध रहती है। अतः बिजली की सुचारू सप्लाई के लिए आवश्यक है कि इन उपकरणों को जल्दी से जल्दी बदला जाए। ट्रांसफार्मर के ऊपर अधिक लोड होना, बार-बार बिजली का जाना, ट्रांसफार्मर में ऐसीबी इक्विपमेंट न लगने से पूरे सेक्टर की बिजली बंद होना, बार-बार बिजली का जाना आदि समस्याओं से अवगत कराया ।
महासचिव के के जैन ने कहा कि बिजली विभाग सेक्टरों में पुराने ट्रांसफार्मरों, लाइनों, जंग खाए हुए खंभों, बेकार फीडर जंक्शन/पैनल बॉक्स,मीटर बॉक्स जिनकी हालत काफी खराब है उनको प्राथमिकता के आधार पर बदले जिससे इनके द्वारा होने वाले फॉल्ट से बार बार सेक्टरों में बिजली जाने में कमी आएगी ।
नोएडा शहर में बिजली की समस्या लगातार बढ़ रही है अतःबिजली आपूर्ति में सुधार के लिए प्रभावी उपाय सुनिश्चित करने की तत्काल आवश्यकता है।महासचिव के के जैन ने कहा कि सबसे बड़ी समस्या कि हल्की सी बरसात या हवा चलने पर बिजली की आपूर्ती बंद कर दी जाती है। थोड़ी सी आँधी चलने से तार टूट जाते हैं। जिससे सेक्टरों में घंटो बिजली की आपूर्ती बंद रहती है। उन्होंने कहा कि इसका हल सिर्फ बिजली की केवल भूमिगत की जाये। तभी इस समस्या का समाधान होगा।
यह भी कहा कि पिछली बैठक में बताया गया था की वर्ष 2023 -24 के लिए विभाग को 26 करोड रुपए का फंड मिला था। इसके अंतर्गत सेक्टर में पैनल बॉक्स, पुराने खंबे,मीटर बॉक्स, एलटी लाइन व एसीबी, एलटी एक्सएलपीई केबल को बदलना आदि कार्य किए जा रहे है । इसके अलावा उत्तर प्रदेश सरकार की नगर महापालिका स्कीम के तहत 72 करोड रुपये स्वीकृति किए इसके अंतर्गत ट्रांसफार्मर की क्षमता बढ़ाने,क्षतिग्रस्त/जार जार पीसीसी/स्टील पोल का प्रतिस्थापन,जार जार एलटी केबल (एबीसी) का प्रतिस्थापन, 33/11 केवी सबस्टेशन पर 11 केवी वीसीबी का प्रतिस्थापन,वितरण ट्रांसफार्मर पर एलटी एसीबी प्रदान करना (पूरे फिडर को खराब होने से बचाना),वितरण ट्रांसफार्मर की क्षमता बढ़ाना, आदि कार्य किए जाएंगे ।किंतु अभी भी नोएडा के अधिकांश सेक्टरों में बिजली से संबंधित समस्या में कुछ विशेष सुधार नहीं हुआ है। कृपया बताया जाए कि अभी तक बिजली की स्थिति में सुधार के लिए नोएडा शहर में क्या-क्या कार्य किए गए हैं और भविष्य में इसके सुधार के लिए किया योजना बनाई गई है।उन्होंने बताया कनाडा को जो बजट मिला था उसके अंतर्गत काफी काम किए गए हैं और हम उन कार्यों की पूरी लिस्ट आपको दे रहे हैं यह लिस्ट भी आपके संदर्भ के लिए यहां भेजी जा रही है।
चूंकि नोएडा विश्व स्तरीय सुविधाओं के साथ भारत के सबसे आधुनिक शहरों में से एक है इसलिए, हम आपसे अनुरोध करते हैं कि बिजली की सुचारू आपूर्ति के लिए नोएडा में बुनियादी ढांचे में नवीनतम उन्नयन के लिए संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश जारी करें।
इस अवसर पर महासचिव के के जैन , अशोक मिश्रा , वरिष्ठ उपाध्यक्ष विजय भाटी , उपाध्यक्ष पवन यादव , उमाशंकर शर्मा, जयपाल सिंह , देवेंद्र सिंह व अन्य पदाधिकारी व बिजली विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।

Please follow and like us:
Pin Share

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email