Noida news : 8 दिवसीय आर्य युवक चरित्र निर्माण शिविर का शुभारंभ

 Noida news : 8 दिवसीय आर्य युवक चरित्र निर्माण शिविर का शुभारंभ
Share this post

 

Noida news : नोएडा। केन्द्रीय आर्य युवक परिषद के तत्वावधान में “आर्य युवक चरित्र निर्माण शिविर” का शुभारंभ शिक्षाविद डा.अमिता चौहान व डॉ.अशोक कुमार चौहान के सान्निध्य में एमिटी इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर 44, नोएडा में हुआ।शिविर में 200 आर्य युवक भाग ले रहे हैं।समारोह की अध्यक्षता आर्य नेता आनन्द चौहान ने की।
एमिटी यूनिवर्सिटी नोएडा के संस्थापक अध्यक्ष डा.अशोक कु चौहान ने कहा कि भारतीय युवा विश्व को नेतृत्व प्रदान कर उसे बदलेंगे।शिविर में भाग लेने वाले युवा जो भी वह लक्ष्य रखेंगे,उस लक्ष्य को प्राप्त कर सकते हैं। अनिल आर्य जी भगवान के दूत हैं,देश का कैसे विकास हो?भगवान ने आपको इस मिशन के लिए भेजा है।हवन करने से भगवान सद्बुद्धि देता है।युवाओं यहां से प्रण करके जाना है कि हम विश्व को दिखाएंगे और पूरी दुनियां को बदलेंगे।

वैदिक विद्वान् डा.जयेंद्र आचार्य (प्राचार्य,आर्ष गुरुकुल नोएडा) ने कहा कि शिविर का उद्देश्य आप जो भी कार्य करें उस पर कोई उंगली न उठा सके।ऐसा चरित्रवान बनने के लिए आर्य समाज से जुड़े,जहां धर्म,परमात्मा और इंसान को इंसान बनाने का कार्य होता है।

आर्य नेता ठाकुर विक्रम सिंह (संस्थापक अध्यक्ष,राष्ट्र निर्माण पार्टी) ने ध्वजारोहण कर शुभारम्भ किया और कहा कि चरित्र वान युवा राष्ट्र निर्माण में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभायँगे।उन्होंने कहा कि वीर सावरकर युवा पीढ़ी के आदर्श हैं उन्होंने देश की आजादी में उल्लेखनीय योगदान दिया।

राष्ट्रीय अध्यक्ष अनिल आर्य ने कहा कि आर्य समाज के संस्थापक महर्षि दयानंद सरस्वती ने भी एक नई वैचारिक क्रांति को जन्म दिया जिससे प्रेरणा लेकर हजारो लोग आजादी की लड़ाई में कूद पड़े।हमें इन महापुरुषों के जीवन से गुण ग्रहण करना चाहिए।

प्रधानाचार्या रेणु सिंह ने संस्कारों के महत्व पर प्रकाश डाला।

सार्वदेशिक सभा के कोषाध्यक्ष माया प्रकाश त्यागी ने कहा कि पराई स्त्री को माता के सामान, पराए धन को मिट्टी के ढेले के सामान,व्यवहार स्वआत्मवत्त करें,शिक्षा ग्रहण करने तक ब्रह्मचर्य का पालन करें।तभी आप चरित्रवान बनेंगे और आपका कल्याण सम्भव हो सकेगा।

आर्य नेता आनन्द चौहान ने कहा कि भावी युवा पीढ़ी चरित्रवान व संस्कारवान बने यही आर्य समाज का लक्ष्य है इन शिविरों से निकले युवा ईश्वर भक्त व राष्ट्र भक्त बनेंगे।परिषद निरंतर युवाओं के निर्माण में संलग्न है।

प्रान्तीय महामंत्री प्रवीण आर्य ने कहा कि बच्चे कच्चे घड़े की तरह होते है जैसे बचपन में बनाओगे वे वैसा ही बनेंगे।
पूर्व मेट्रो पोलेटिन मजिस्ट्रेट
ओम सपरा ने कहा कि यह शिविर चुने हुए बच्चों,युवकों का एक सुंदर गुलदस्ता है जो योग, प्राणायाम,व्यक्तित्व निर्माण और चरित्र निर्माण का एक सप्ताह का यह अद्भुत प्रशिक्षण प्राप्त करके, अपने व्यक्तित्व का निखार करेंगे।

गायक रमेश चंद्र स्नेही (हरिद्वार), कुसुम भण्डारी,पिंकी आर्या,नरेश प्रसाद,प्रवीण आर्य ने सुन्दर भजन प्रस्तुत किए।

शिविर में 8 दिन तक युवकों को योगासन,दण्ड बैठक, लाठी, जूडो कराटे,आत्म रक्षा व साथ ही संध्या यज्ञ, भारतीय संस्कृति की जानकारी का शिक्षण दिया जायेगा जिससे वह अपनी पुरातन संस्कृति पर गर्व करना सीखें।

मेजर जनरल आर के एस भाटिया, ब्रिगेडियर मुक्ति कांत महापात्र,अजय चौहान आदि ने भी अपने विचार व्यक्त किए।
कैप. रोहित कपूर, यशोवीर आर्य, देवेन्द्र भगत, धर्म पाल आर्य, योगेन्द्र शास्त्री,व्यायामाचार्य सौरभ गुप्ता, सुरेश आर्य,त्रिलोक शास्त्री, अरुण आर्य,राम कुमार आर्य,यज्ञवीर चौहान आदि उपस्थित थे।

 

Please follow and like us:
Pin Share

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email